सेन्ट एम.पी. वाहन (दो पहिया/चार पहिया) ऋण योजना

 

CentMP Vehicle Loan:

उद्वेश्य

केवल व्यक्तिगत उपयोग के लिये दो पहिया वाहन (स्कूटर,मोपेड,मोटर सायकल) एवं चोपहिया वाहन (कार,जीप,इत्यादि) खरीदी हेतु । पुरानी/सेकेन्डहेन्ड कार क्रय के लिये जो 03 वर्षो से अधिक पुरानी नहीं होनी चाहिये एवं उसकी शेष लाईफ 10 वर्षो की हो को भी वित्त प्रदान किया जा सकता है।
पात्रता

ऐसे सभी व्यक्ति जिनकी आयु 18वर्ष एवं उससे अधिक है एवं जो:-
a)  केन्द्र/राज्य सरकार /स्थानीय स्वयं-शासित सरकार/रक्षा कर्मचारी/सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रम के कर्मचारी/बडे औद्योगिक घराने के कर्मचारी/प्रतिष्ठित संसथान के कर्मचारी।
b)  स्वरोजगारी व्यक्ति/स्वतंत्र उद्यमी जिनकी ज्ञात स्त्रोतों से नियमित आय है।
c) कृषकों के मामले में -
अ) दो पहिया वाहन के मामले में न्यूनतम 5एकड सिंचित कृषि भूमि होना आवश्यक होगा इसकी पुष्टि दस्तावेजों के अतिरिक्त शाखा प्रबंधक द्वारा निरिक्षण के दौरान सुनिश्चित की जाय। 
ब) चारपहिया वाहन के मामले में न्यूनतम 10एकड सिंचित कृषि भूमि होना आवश्यक होगा इसकी पुष्टि दस्तावेजों के अतिरिक्त शाखा प्रबंधक द्वारा निरिक्षण के दौरान सुनिश्चित की जाय। ।
d) हमारे बैंक के कर्मचारी

e) वित्त की उपलव्द्वता अकेले अथवा पति/पत्नि के नाम से संयुक्त रूप से दी जा सकती है जिनकी ज्ञात स़्त्रोत से नियमित आय है एवं पति/पत्नि की आय को ऋण की पात्र राशि की गणना हेतु जोडा जाय। 
f) न्यूनतम आय मानदंड (सकल आय)
वेतन भोगी व्यक्ति - 
अ. चोपहिया वाहन हेतु रू.15000 प्र0मा0
ब. दो पहिया वाहन हेतु शुद्व आय(टेकहोम पे) रू.5000प्र0मा0
अन्य व्यक्ति -
अ. चोपहिया वाहन हेतु रू.180000 प्र0वर्ष
ब. दो पहिया वाहन हेतु शुद्व आय रू.60000प्र0वर्ष
कृषकों के मामले में -
कृषक की खेती से होने वाली कुल कृषि आय में से 50प्रतिशत राशि स्वयं के घर खर्च हेतु बचाने के पश्चात शेष बची 50प्रतिशत राशि में अन्य मदों हेतु लिये गये ऋण एवं प्रस्तावित वाहन ऋण की किश्त की अदायगी हो जानी चाहिये।
ऋण की मात्रा

(1) वेतन भोगी व्यक्ति-
पिछले आहरित वेतन के आधार पर 24 माह का सकल वेतन या अधिकतम रु. 10.00 लाख तक इनमें से जो भी कम हो।
(2) अन्य व्यक्ति-
पिछले तीन वर्षो की आयकर विवरणी के अनुसार औसत वार्षिक आय का 2 गुना या अधिकतम रु. 10.00 लाख तक इनमें से जो भी कम हो।
(3) दर्शायी गयी भू जोत सीमा से होने वाली सकल वार्षिक आय का दो गुना या अधिकतम रु. 10.00 लाख तक जो भी कम हो।

मार्जिन

नये वाहनों के मामले में 20प्रतिशत।
पुराने वाहनों के मामले में 40प्रतिशत।
पुराने वाहनों का मूल्यांकन अधिकृत ओटामोंबाइल इंजीनियर द्वारा कराया जाय। 

प्रतिभूति

(1) प्राथमिक प्रतिभूति-
(अ)खरीदे गये वाहन का दृष्टिबंधक
(ब)बैंक का दृष्टिबंधक प्रभार क्षेत्रीय परिवहन अधिकारी के कार्यालय में रजिस्टर्ड होना चाहिए

(2)सम्पार्शिविक प्रतिभूति-
सम्पार्शिविक प्रतिभूति नही ली जाए। 
बैंक का द्वष्टिबंधक प्रभार क्षेत्रीय परिवहन अधिकारी के कार्यालय में रजिस्टर्ड होना चाहिये।

जमानत

(1) रु. 5.00 लाख तक की ऋण राशि पर कोई जमानत नही ली जाए।
(2) रु. 5.00 लाख से अधिक के ऋण राशि के प्रकरणों में पर्याप्त हैसियतधारी एक जमानतदार लिया जाए।

पुनर्भुगतान

संवितरण के अगले माह से ऋण की अदायगी निम्नानुसार समान मासिक किश्तों में की जायेगी।
1. नये वाहन के मामले में -
अ. चैपहिया वाहनो हेतु - अधिकतम 84माह
ब. दो पहिया वाहनों हेतु - अधिकतम 48माह
2. पुराने वाहन के मामले में -
अ. चैपहिया वाहनो हेतु - अधिकतम 36माह
ब. दो पहिया वाहनों हेतु - अधिकतम 24माह
तथापि यह सुनिश्चित किया जाय कि वेतन भोगी कर्मचारियों के मामलों में समस्त ऋण राशि की अदायगी इनकी सेवा निवृति की तारीख तथा अन्य मामलों में 65वर्ष की उम्र प्राप्त करने के पूर्व कर ली जाय।
3. किसानों के मामले में चुकौती कि मियाद फसल की कटाई के समय को घ्यान में रखते हुऐ निर्धारित की जाय। 
4. ऋण राशि के संवितरण के समय पुर्नभुगतान सूची के अनुरूप समस्त किस्तों हेतु उत्तरदिनांकित चैक प्राप्त किये जाय। 
5. सरकारी, स्थानीय,स्वयंशासित सरकार,सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रम,रक्षा कर्मचारियों,के मामले में उत्तरदिनांकित चैक प्राप्त करने की शर्त को निम्न मामलों में हटाया जा सकता है। यदि -
अ. वे अपने नियोक्ता से इस बात का अपरिर्वतनीय एवं बिनाशर्त जोडे सहमतिपत्र प्रस्तुत करते है कि उनके वेतन से प्रतिमाह किश्तों की कटौती करके बैंक को प्रेषित किया जायगा ।
अथवा 
ब. जिनका वेतन शाखा के माध्यम से किया जा रहा है एवं मासिक किश्तों की कटौती के लिये उनसे अधिकार पत्र प्राप्त किया गया है। 
तथापि वेतनभोगी कर्मचारियों के किसी भी कारण से अपनी सेवा निवृति जिसमें मृत्यु भी शामिल है की दशा में बकाया ऋण राशि को सेवांतलाभो से वसूली करने के संबध में अपने नियोक्ता से अपरिर्वतनीय वचन पत्र 
प्रस्तुत करें। 
6. देय तारीख को शाखाऐं चैक का भुगतान प्राप्त करना सुनिश्चित करेंगी एवं ऋण खाते में राशि जमा करेंगी।

घर ले जाने वाले वेतन का मानदंड

स्वीकृतकर्ता प्राधिकारी यह सुनिश्चित करे कि आवेदक का घर ले जाने वाला वेतन (नेट टेक होम ) 40प्रतिशत अर्थात समस्त कटौतियों के घटाने के पश्चात जिसमें प्रस्तावित ऋण की ईएमआई भी शामिल हेै को मिलाकर समस्त कटौतियां 60प्रतिशत से अधिक नहीं होनी चाहिये तथा घर ले जाने वाला वेतन 40 प्रतिशत शेष होना चाहिये।

संवितरण 

अ. आवेदक द्वारा दी गयी प्रोफार्मा इनवाइस के आधार पर मार्जिन राशि को वसूल करने के पश्चात राशि का भुगतान पे आर्डर या डिमान्ड ड्राफट द्वारा सीघे ही डीलर/उपडीलर को किया जाय। 
ब. सेकेन्ड हेन्ड वाहन के मामले में राशि का भुगतान मार्जिन राशि को वसूल करने के पश्चात पे आर्डर या डिमान्ड ड्राफट द्वारा सीधे ही विक्रेता को किया जाय। 

अन्य शर्ते

 

1. आवेदन निर्धारित प्रारूप पर उचित पहचान के दस्तावेजी साक्ष्यों के साथ प्रस्तुत किया जाय।
2. के.वाई.सी. मानदंडों का सख्ती से पालन किया जाय।
3. सेकेन्ड हेन्ड वाहनों की स्थिति में आरटीओ से विक्रेता से स्वामित्व का सत्यापन किया जाय।
4. आय के उचित दस्तावेजी सबूत/प्रमाण प्राप्त किये जाय।
5. चैपहिया वाहन खरीद हेतु ऋण के मामले में चाहे आवेदक वेतन भोगी कर्मचारी हो अथवा अन्य हो अनिवार्यतः आयकर निर्धारिती हो तथापि किसानों को इस शर्त में छूट दी जाती है।
6. सुनिश्चित किया जाय कि वाहन अधिकृत डीलर से ही क्रय किया जा रहा है।
7. आरटीओं से बैंक के नाम का वाहन का द्वष्टिबंधक नोट करके रजिस्ट्रेशन बुक एवं ड्रायविंगलायसेंन्स की प्रतियां अभिलेख में सुरक्षित रखी जाय।
8. वाहन की बिक्री रसीद अभिलेख में सुरक्षित रखी जाय।
1. वाहन की एक चाबी दस्तावेज के साथ रखी जाय।
2. ऋण ग्रहिता से यह घोषणा पत्र प्राप्त किये जाय कि वाहन का उपयोग टेक्सी प्रयोजन हेतु नही किया जाएगा।

         Terms and conditions applicable

         Please contact nearest branch for details

         ब्याज दर के लिए ब्याज दर लिंक क्लिक करें

         प्रक्रिया शुल्क के लिए सेवा प्रभार लिंक क्लिक कर