सेन्ट एम.पी. जनरल क्रेडिट कार्ड योजना

CentMP General Credit Card:

 

योजना का प्रक्रति्य 
यह योजना ग्रामीण एवं अर्धशहरी क्षेत्रों में शाखा के ग्राहको की सामान्य ऋण आवश्यकताओं को पूरा करेगी। 
ऋण का उद्वेश्य

ग्रामींण एवं अर्धशहरी क्षेत्र में कार्यरत बैंक की शाखाओं द्वारा ग्राहकों की सामान्य आवश्यकताओं की पूर्ती हेतु जी0सी0सी0योजना के माध्यम से उनके शाखा स्थित बचत अथवा चालू खाते के संचालन (केशफलो) एवं आय को ध्यान में रखते हुऐ बगैर किसी प्रतिभूति,उद्वेश्यों,अथवा अंतिम उपयोगिता प्रमाण पत्रों की मांग किये जटिल प्रक्रिया रहित योजना के माध्यम से अधिविकर्ष (ओ0डी0) सीमा प्रदान की जायेगी। 
प्रयोजन

इस योजना के अंतर्गत दिया गया ऋण, सुविधा परिक्रामी ऋण (ओव्हर ड्राफ्ट) की प्रकृति का होगा। 

पात्रता

• आवेदक शाखा के कमांड क्षेत्र का स्थायी निवासी होना चाहियें एवं के0वाय0सी0नार्मस का अनुपालन सुनिश्चित होना चाहिये। 
• आवेदक की उम्र न्यूनतम 21 वर्ष तथा अधिकतम 50 वर्ष की होना चाहियें। 
• आवेदक का जमा खाता हमारे बैंक शाखा में कम से कम 6माह से अवश्य होना चाहिये। यदि औसत शेष रूपये 5000/- एवं इससे अधिक है तब पात्रता हेतु तीन माह कम किये जांयेगे। 
• ऐसे व्यक्ति जो कि प्रतिष्ठित संस्थानों/सरकारी विभागों में कार्यरत है एवं उनकी आय का स्त्रोत नियमित है वे भी पात्र है एवं उन्हें वरीयता दी जानी चाहिये। 
• यह सुविधा परिवार में केवल एक व्यक्ति को ही प्राप्त हो सकेगी। 
• आवेदक के पास नियमित ब्याज एवं मूलधन अदायगी की क्षमता होनी चाहिये। 
• आवेदक को किसी बैंक/वित्तीय संस्थान का चूककर्ता नहीं होना चाहिये। इस आशय की घोषणा आवेदन प्रारूप में ही शामिल की जाय। 
• शाखा के विद्यमान उधारकर्ता जिन्हें शाखा से किसान क्रेडिट कार्ड,स्वरोजगार क्रेडिट कार्ड,आर्टिजन क्रेडिट कार्ड जारी किये गये हों वे पात्र नहीं है। 

ऋण की प्रमात्रा

• प्रति उधारकर्ता सकल वार्षिक आय का 25 प्रतिशत या अधिकतम रू.25000/- जो भी कम हो।
• शाखा को ऋण सीमा का निर्धारण करते वक्त संम्पूर्ण परिवार की आय एवं नगद प्रवाह को ध्यान में रखकर ऋण सीमा नर्धारण की छूट है परन्तु यह ऋण सीमा रू.25000/- से अधिक नहीं होगी। 
• ऋण सीमा की वार्षिक आधार पर समीक्षा की जानी चाहिये तथा खाता धारक के पिछले रिकार्ड के आधार पर समीक्षा/निरस्तीकरण किया जायेगा। इस आशय का नोट स्वीकृति की नियम एवं शर्तो में उल्लेखित किया जाय। 

मार्जिन

निरंक। 

ऋण सीमा का नवीनीकरण

परिक्रामी ओव्हरड्राफ्ट/नगद उधार सीमा की प्रत्येक वर्ष समीक्षा की जानी है।

आय का निर्धारण


आय के निर्धारण के लिये निम्नलिखित प्रलेखों में से किसी को भी आय के प्रमाण के रूप में लिया जा सकता है:-
वतेनभोगी वर्ग -
(ए) नवीनतम वेतन पर्ची/नियोक्ता द्वारा विधिवत हस्ताक्षरित मोहर लगी कमप्यूटर वेतन पर्ची ।
(बी) नियोक्ता से वेतन प्रमाण पत्र ।
व्यवसायीवर्ग/स्व नियोजित एवं अन्य -
(ए) आयकर रिटर्न अभिस्वीकृत प्रति (पिछला वित्तीय वर्ष)
(बी) पुराने ग्राहक जिनका एक वर्ष से अधिक समय से खाता है एवं उसका संचालन नियमित एवं संतोषप्रद है तब इसमें वर्ष भर के जमा योग (क्रडिट समेशन) का 25प्रतिशत या अधिकतम रू.25000/-जो भी कम हो तक बगैर आय प्रमाण पत्र के ऋण स्वीकृत किया जा सकता है, तथापि शाखा प्रबंधक यह सुनिश्चित कर लें कि आवेदक की आय ऋण चुकाने हेतु पर्याप्त है। 
(स) तहसीलदार/नायबतहसीलदार द्वारा जारी आय प्रमाण पत्र।


वास्तविक आवेदक के आवेदन की प्रोसेसिंगहेतु प्रक्रिया 


• ऋण आवेदन 
• उधारकर्ता की पहचान सुनिश्चित करने हेतु आवश्यक दस्तावेज जैसे सक्षम अधिकारी द्वारा प्रदत्त मूल निवासी प्रमाण पत्र,राशनकार्ड,मतदाता पहचान पत्र,आदि प्राप्त किये जाय। 
• हितग्राही की पहचान हेतु के0वाय0सी0 मापदंडों का कडाई से पालन किया जाय। 
• स्वीकृति पूर्व निरिक्षण किया जाय। 

प्रतिभूति/दसतावेज

शाखा को किसी भी प्रकार की प्रतिभूति के लिये आग्रह नहीं करना चाहिये। 
निम्नलिखित दस्तावेज प्राप्त किये जाय -
• डी0पी0नोट, निरंतरता पत्र, ब्याज पत्र, परित्याग पत्र

अदायगी

चूंकि खाता बिना किसी अंतिम उपयोग निर्बधंन के साथ ओव्हरड्राफ्ट या नगद उधार प्रकृति का है, अतः कार्ड धारक स्वीकृत ऋण सीमा के अंदर आहरण करने हेतु स्वतंत्र है।शाखा यह सुनिश्चित करें कि खाते में नियमित परिचालन किया जाता है। 

सेवा प्रभार

कोई सेवा प्रभार नहीं लिया जायेगा। 

के्रडिट कार्ड जारी करना

कार्ड धारक को फाटोग्राफ सहित पासबुक जारी की जायेगी। 

आस्ति वर्गीकरण

आस्ति वर्गीकरण की नियम एवं शर्ते जिस प्रकार से ओव्हरड्राफ्ट/नगद उधार खाते पर लागू होती है वही शर्ते जी0सी0सी0 खाते पर भी लागू होगी। 

अन्यशर्ते

1) हितग्राही द्वारा योजना में ऋण खाते से नगद राशि की आहरण सुविधा प्रदान की जाती है अतः इस योजना अंतर्गत ऋणी को चालू खाता पास बुक जारी की जाय एवं इस पासबुक पर जी0सी0सी0योजना के अंतर्गत जारी पास बुक अंकित किया जाय। 
2) शिक्षित ऋणियों को चैकबुक जारी की जाय तथा अशिक्षित ऋणियों को राशि का आहरण अंतरण वाउचर पर अंगूठा निशानी प्राप्त कर एवं गवाहों के हस्ताक्षर प्राप्त कर अनुमत किया जाय। 


• Terms and conditions applicable 

• Please contact nearest branch for details

•ब्याज दर के लिए ब्याज दर लिंक क्लिक करें

•प्रक्रिया शुल्क के लिए सेवा प्रभार लिंक क्लिक कर